Saturday, 14 June 2008

आता है याद जब वो जमाना ...

वो बारिश के पानी में
कागज की कश्‍‍ती तैराना
और फिर
कश्‍‍ती के डूबने पर
दोस्‍तों का ताली बजाना
डूब गई - डूब गई कहकर
वो चीखना चिल्‍लाना
करता है बचपन की यादों को ताजा
वो बारिश के पानी में
कागज की कश्‍‍ती तैराना
कश्‍ती में वो चींटी को बिठाना
फिर कश्‍ती को आगे बढाना
आता है याद जब वो जमाना
वो बारिश के पानी में
कागज की कश्‍ती तैराना

1 comment:

mahendra mishra said...

गुजरा हुआ जमाना
याद आता है दुबारा
गुजरा समय याद कर किसे अच्छा नही लगता है . बहुत बढ़िया