Wednesday, 31 December 2008

आ रहा है नया साल ले लो मेरी भी मुबारकबाद

कुछ ही पलों में आने वाला नया साल आप सभी के लिए
सुखदायक
धनवर्धक
स्‍वास्‍थ्‍वर्धक
मंगलमय
और प्रगतिशील हो


यही हमारी भगवान से प्रार्थना है

16 comments:

विनय said...

नये साल की बहुत-बहुत शुभकामनाएँ

mehek said...

naya saal mubarak ho

रंजन said...

आपको भी नववर्ष की शुभकामनाऐं

रंजन
http://aadityaranjan.blogspot.com

"अर्श" said...

जी सबसे पहले तो आप और आपके समस्त परिवार को नव वर्ष की हार्दिक शुभकामनाएं.
बहोत ही खुब

ढेरो बधाई आपको...
अर्श

दिगम्बर नासवा said...

मोहन जी
आपको भी नव वर्ष की ढेरों शुभकामनाएं

ताऊ रामपुरिया said...

नये साल की घणी रामराम !

महावीर said...

नव वर्ष की हार्दिक मंगलकामानाएं।

राज भाटिय़ा said...

नव वर्ष की आप और आपके परिवार को हार्दिक शुभकामनाएं !!!नया साल आप सब के जीवन मै खुब खुशियां ले कर आये,ओर पुरे विश्चव मै शातिं ले कर आये.
धन्यवाद

शुभम आर्य said...

नया साल आए बन के उजाला
खुल जाए आपकी किस्मत का ताला|
चाँद तारे भी आप पर ही रौशनी डाले
हमेशा आप पे रहे मेहरबान उपरवाला ||

नूतन वर्ष मंगलमय हो |

नीरज गोस्वामी said...

नव वर्ष की शुभ कामनाएं
नीरज

seema gupta said...

"नव वर्ष २००९ - आप सभी ब्लॉग परिवार और समस्त देश वासियों के परिवारजनों, मित्रों, स्नेहीजनों व शुभ चिंतकों के लिये सुख, समृद्धि, शांति व धन-वैभव दायक हो॰॰॰॰॰॰॰॰॰॰ इसी कामना के साथ॰॰॰॰॰॰॰॰॰॰॰॰॰॰॰॰॰॰ नव वर्ष की हार्दिक शुभकामनाएं "
regards

kapil.gzb said...

नववर्ष की आपको बहुत-बहुत बधाई। ये पंक्तियां मेरी नहीं हैं लेकिन मुझे काफी अच्‍छी लगती हैं।

नया वर्ष जीवन, संघर्ष और सृजन के नाम

नया वर्ष नयी यात्रा के लिए उठे पहले कदम के नाम, सृजन की नयी परियोजनाओं के नाम, बीजों और अंकुरों के नाम, कोंपलों और फुनगियों के नाम
उड़ने को आतुर शिशु पंखों के नाम

नया वर्ष तूफानों का आह्वान करते नौजवान दिलों के नाम जो भूले नहीं हैं प्‍यार करना उनके नाम जो भूले नहीं हैं सपने देखना,
संकल्‍पों के नाम जीवन, संघर्ष और सृजन के नाम!!!

मुसाफिर जाट said...

HAPPY NEW YEAR TO YOU TOO.

प्रवीण जाखड़ said...

उम्मीदों-उमंगों के दीप जलते रहें
सपनों के थाल सजते रहें
नव वर्ष की नव ताल पर
खुशियों के कदम थिरकते रहें।

बवाल said...

"ये संसार नश्वर ज़रूर है, पर नष्ट होता नहीं। यही बीता वर्ष भी है और नव वर्ष भी यही.
न बदला है, न बदलेगा.
इसलिए वर्तमान को ही गत और नवागत मानते हुए प्रसन्नचित्त जीवन जिए जाइए ....
नव-वर्ष पर्व पर ढेर सारी बधाइयों सहित"
---समीर "लाल" और "बवाल"
http://udantashtari.blogspot.com/
http://lal-n-bavaal.blogspot.com/

अल्पना वर्मा said...

aap ke liye bhi naya saal shubh ho...dher sari subhkamnyen!