Wednesday, 12 November 2008

मेरा साया

मेरा हमदम मेरा दोस्‍त है मेरा साया
हर समय हर पल
रहता है साथ
मेरा साया

सुख में दुख में
आंधी तूफान में
मेरे साथ है
मेरा साया

कभी थकता नहीं कभी रुकता नहीं
चलता ही जाता है
साथ मेरे
मेरा साया

सूखी नदी में पैर फिसल गया
मुझे संभाला खुद गिर गया
मेरा साया

पर्वत ने रोका रास्‍ता मेरा
न रुकने दिया चलाता रहा मुझे
मेरा साया

दोस्‍तों ने छोड दिया साथ
न होने दिया कभी उदास
हंसता रहा साथ मेरे
मेरा साया

21 comments:

seema gupta said...

मेरा हमदम मेरा दोस्‍त है मेरा साया
हर समय हर पल
रहता है साथ
मेरा साया
" kitne dino ke baad aapko pdhne ka mauka mila hai.... bhut ythartvadee prstutee hai, sach he to hai jhan koee bahee nahee sath apne, vhan maira saya sath chla....kub khan mai rha tanha, hr lemha maira maire saye ke saath plaa....good composition"

Regards

रंजना said...

सत्य कहा....
जन्म से लेकर श्मशान तक, साथ निभाए मेरा साया.

परमजीत बाली said...

सुन्दर रचना है।बधाई।

दोस्‍तों ने छोड दिया साथ
न होने दिया कभी उदास
हंसता रहा साथ मेरे
मेरा साया

ताऊ रामपुरिया said...

क्या शानदार बात कही मोहन जी ! बहुत धन्यवाद !

रंजना [रंजू भाटिया] said...

दोस्‍तों ने छोड दिया साथ
न होने दिया कभी उदास
हंसता रहा साथ मेरे
मेरा साया

सही कहा बहुत सुंदर

raja said...

mind blowing dost i am proud of you

pintu said...

bilkul sahi bat hai, isi tarah mera hosla badhate rahiyega,"http://pinturaut.blogspot.com/"http://janmaanas.blogspot.com/

राज भाटिय़ा said...

बहुत सुंदर.
धन्यवाद

Dr. Amar Jyoti said...

'सूखी नदी में…'
बहुत सुन्दर।

विनय said...

badhiya rahii aapki rachna!

डॉ .अनुराग said...

sach kha ......

योगेन्द्र मौदगिल said...

क्या बात है.. वाह.. अच्छी रचना के लिये बधाई..

Anonymous said...
This comment has been removed by a blog administrator.
मोहन वशिष्‍ठ said...
This comment has been removed by the author.
Abhishek said...

पर्वत ने रोका रास्‍ता मेरा
न रुकने दिया चलाता रहा मुझे
मेरा साया
अच्छा लिखा है आपने. स्वागत मेरे ब्लॉग पर भी

महेन्द्र मिश्र said...

बढिया.....लेकिन ज़रा सोचो कि उजाले में ही साथ रहता है साया और अँधेरे मे तनहा कर जाता है.

Jimmy said...

Bouth Aache Janaab


nice blog dude!!!!!

Visit my Site

www.discobhangra.com

makrand said...

bahut khub
badhai

Dr. G. S. NARANG said...

bahut badiya mohan ji.

अल्पना वर्मा said...

saral aur sundar kavita!Wah!

Job Search in India said...

you are doing such a wonderful job.
so simple and quite good.

thanks for sharing